Modern Living Room:  Living room by Creative Focus

​ पूजा कक्षों के लिए 10 विचार—भाग 2

Rita Deo Rita Deo
Google+

Request quote

Invalid number. Please check the country code, prefix and phone number
By clicking 'Send' I confirm I have read the Privacy Policy & agree that my foregoing information will be processed to answer my request.
Note: You can revoke your consent by emailing privacy@homify.com with effect for the future.
Loading admin actions …

कल पूजा के कमरे के डिज़ाइन पर आपने विचारपुस्तक देखा था आज कुछ और नए और अतिरिक्त  विकल्पों के माध्यम से सजाये हुए पूजा स्थलों के  विचार आपके सामने प्रस्तुत करते हैं।

ये भी अभिनव और शानदार हैं और इनमे वो साड़ी गुण और सुविधाएँ हैं जो एक सुंदर पूजा क्षेत्र में होना चाहिए ।

इसे आप आधुनिक  पूजा  स्थल  विचारो  का  दूसरा  संग्रहण कह सकते  हैं।

यदि आप कल कल इसे याद करते हैं तो यहां भाग 1 है

11. घंटी और सजावट

Modern Living Room:  Living room by Creative Focus
Creative Focus

Modern Living Room

Creative Focus

यदि आपके पास दो खम्बे के बीच या दो दीवारों के बीच जगह है तो इस तरह डब्बे की तरह डिज़ाइन में पूजा क्षेत्र बना सकते है। इस तरह जालीदार विभाजन की दीवार को लगाने से पूजा क्षेत्र को गोपनीयता प्रदान करने में काम आता है। पूजा स्थान की सुंदरता को बढ़ाने के लिए, आप पीतल की घंटियाँ और रौशनी की सरचना के साथ इस हिस्से को और पूजनीय बना सकते हैं।

12. शयनकक्ष में मंदिर

Navi Mumbai flat:  Bedroom by Creative Focus
Creative Focus

Navi Mumbai flat

Creative Focus

एक छोटे से अपार्टमेंट में, जब पूजा क्षेत्र के लिए एकमात्र स्थान बेडरूम में है, तो सौंदर्यप्रसाधन के लिए या टीवी लगाने के फ़र्नीचर की हिस्सों को बढाकर तरफ एक विशेष कैबिनेट तैयार कर सकते हैं। पर ध्यान रहे की मनोरंजन इकाई और पूजा स्थान को अलग करने के लिए विपरीत रंगों का प्रयोग हो। मूर्तियों या छवियों के विस्तार के संग्रह के लिए प्रदर्शन स्थान को बढ़ाने के लिए इस हिस्से मं कांच की अलमारियों को जोड़ा भी जा सकता है।

13. सटीक और सौंदर्यवान

जब आपके पास अपने भोजन क्षेत्र, शयन कक्ष या  घर के कार्यालय के कोने में खली स्थान है तो वो पूजा कक्ष बन सकता है। इच्छा के अनुसार इस स्थान को खुला या हलके परदे से ढक कर रख सकते हैं जब यहाँ पूजा न  हो  रही हो ।  मूर्तियों और पूजा में इस्तेमाल होने वाले  सहायक वस्तुओं  को पीठिका  के नीचे दराज़ में रख सकते हैं।

14. एक कोने में प्रकाशबिन्दु

Mr.Ishaan's Residence,Sholinganallur:  Living room by M/s Studio7 Architects
M/s Studio7 Architects

Mr.Ishaan's Residence,Sholinganallur

M/s Studio7 Architects

पूजा स्थल को तेजस्वी होना जरूरी नहीं है, क्योंकि यह स्थान ध्यान और शांति दर्शाती है। जब इस तरह दो स्तंभों के बीच एक छोटे से अंतरिक्ष में पूजास्थल सेट किया जाता है, तो स्थान का उपयोग कुशलतापूर्वक होता है जैसे के यहाँ नज़र के सामने ऊर्ध्वाधर लकड़ी के पृष्ठभूमि में रखा हलके प्रकाश में डूबा पूजा स्थल। लकड़ी के अतिरिक्त यहाँ पीतल की मूर्तियों और सामानों के उपयोग से एक उत्तम पर्यावरण बना है जिसपर चमचमाते हुए रौशनी के कारन भव्य चमक है।

15. नक्काशीदार दरवाज़े से सजा

Mr Mahesh Ashwath:  Living room by Pebblewood.in
Pebblewood.in

Mr Mahesh Ashwath

Pebblewood.in

एक छोटे से अवकाश में स्थित पूजा कमरे को व्यावहारिक बनाने के लिए सौन्दर्य से भरे इस नक्काशीदार दरवज़े को लगाने से सुंदरता में चार चाँद लग जाता है। इसकी सुंदरता बढ़ने के लिए दरवाज़े को धार्मिक चित्रों या प्रतीकों से सजाया जा सकता है ताकि पूजा घर की मूर्तियां छिपी रहें।

16. एकलौता खड़ा मंदिर

The mural apartment:  Dining room by S Squared Architects Pvt Ltd.

इकलौती खड़ी लकड़ी या संगमरमर के छोटे मंदिर आमतौर पर कई भारतीय घरों में देखी जाती हैं लेकिन इन दोनों तत्वों का संयोजन करके दीवार में इस तरह की रचना  बहुत कम यहाँ पर दिखने वाले डिजाइन के रूप में नज़र आते हैं। दीवार का बड़ा टुकड़ा विशिष्ट रूप से निर्मित किया गया है ताकि यह भोजन कक्ष के कोने में पूरी तरह फिट हो सके। हालांकि, एक अंतर्निहित डिजाइन के लिए जब भी नई व्यवस्था के प्रयोग करना चाहें तो विभिन्न कोनों में लगाया जा सकता है।

17. पृष्ठभूमि में प्रार्थना

आप धातु पेंट का उपयोग करके पृष्ठभूमि पैनल पर एक श्लोक या धार्मिक प्रतीकों को चित्रित करके अपनी पूजा स्थान में एक अनूठा तत्व जोड़ सकते हैं। केंद्रबिंदु के तहत, पेंट चमकता है और अन्यथा छोटे और साधारण पूजा स्थान में आकर्षण को बढ़ाने वाली सुविधा बनाता है।

18. रसोई काउंटर के पास

Ms. Shilpa Kondapur Site:  Kitchen by Ghar Ek Sapna Interiors
Ghar Ek Sapna Interiors

Ms. Shilpa Kondapur Site

Ghar Ek Sapna Interiors

कुछ भारतीय घरो में पूजाघर को रसोईघर में रखने की परंपरा है इसलिए पूजा स्थल को रसोई काउंटर के पास अतिरिक्त अलमारी में इसतरह सजा सकते हैं। इसके अंदर मूर्तियों और सहायक उपकरण को रखने के लिए कोने में डिज़ाइन किया गया है जिसे सुविधा अनुसार काउंटर के ऊपर एक ऊर्ध्वाधर शेल्फ में भी रखा जा सकता है क्योकि यह रसोई घर में कार्यस्थल पर कब्ज़ा नहीं करता ।

19. सजावटी पूजाघर पर जाली के दरवाजे

SNN Raj Serenity, 2 BHK - Mr. Deepak:  Living room by DECOR DREAMS
DECOR DREAMS

SNN Raj Serenity, 2 BHK—Mr. Deepak

DECOR DREAMS

बड़े घर में जहाँ पूजा क्षेत्र को निर्धारित करने के लिए अलग हिस्सा हो तो इस तरह की जालीदार दरवाज़े से सजाया जा सकता है। यहाँ वो बैठक कक्ष का अभिन्न हिस्सा होते हुए भी दरवाज़े के कारन क्षेत्र को निजी रखने में मदद करता है।  लकड़ी के जाली के दरवाजे के माध्यम से अंदर का आंशिक दृश्य भी दिखता हैं।

20. कार्यशील कोना

Puja room:  Walls by Ineidos
Ineidos

Puja room

Ineidos


यह अभिनव डिजाइन का पूजा कक्ष गलियारे के आखरी कोने का सदुपयोग करता है। मूर्तियों और दीपकों को रखने के लिए फर्श से थोड़ी उचाई पर सजी पीठिका और पीछे जालीदार पृस्ठभूमि आकर्षक रोशिनी लगाने के लिए उपयुक्त है । पूजे के सामान भंडारण के लिए मूर्ति से निचे लकड़ी का कैबिनेट बनाया गया है- स्वच्छ और कुशल।

हम आशा करते हैं कि ये डिज़ाइन घर में सुन्दर पूजा इलाका बनाने के लिए कुछ विचारणीय सुझाव देंगे। अधिक विचारों के लिए 8 प्रेरणादायक पूजा कक्ष डिजाइन देखें।

इनमें से कौन से डिजाइन आपकी पसंदीदा हैं? टिप्पणियों में जवाब दें
 Houses by Casas inHAUS

Need help with your home project? We'll help you find the right professional

Discover home inspiration!