Corridor & hallway by Emma & Eve Interior Design Ltd

वास्तु के 10 सिद्धांतों से अपने घर में सकारात्मक ऊर्जा भरें

Rita Deo Rita Deo
Google+
Loading admin actions …

सजावट की उत्तम शैली के माध्यम से घर में सुंदरता और अभयारण्य के साथ शांत माहौल का भी   सफलतापूर्वक सृजन किया जा सकता है। वास्तु शास्त्र की शैली का प्रयोग करने से घर के आंतरिक योजना में सुधार लाने के साथ साथ संबंधपरक सद्भाव भी पैदा करने का रास्ता तय हो जाता है।  वास्तु शास्त्र आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा स्थापित करने में सक्रिय रूप से आपकी सहायता कर सकती है और नकारात्मक तत्वों को कम करते हुए अपने जीवन के भीतर आभा को बढ़ाता है। हमने 10 सुझावों का सयोजन किया है जिनसे आपके आवास में आने वाले मेहमानो को स्वागत के साथ शांति और सामंजस्य का अनुभव होगा और परिवारजन तनाव और चिंता रहित जीवन व्यतीत करेंगे।

यदि आप इस प्रयोग को शुरू करने के लिए तैयार हैं, तो आगे पढ़ें…

1. टूटे हुए वस्तुओं का त्याग करें

टूटे फिक्स्चर, पुराने गद्दे और बेकार पड़े बर्तन जो इस्तेमाल के लायक न हो वे नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देते हैं। ये बेकार वस्तुवे घर के अंदर का कालचक्र और माहौल को दूषित कर वातावरण को पेचीदा बना देते हैं। अगर आपके घर में  कुछ मुख्य उद्देश्यों की पूर्णता नहीं हो रही है तो जैसे के असुविधाजनक फर्नीचर, या एक ताला जो हमेशा अटक जाता है, तो यही उसकी मरम्मत या बदलने की समय है।

2. रौशनी और वायु का संचार

घर के अंदर प्राकृतिक प्रकाश और हवा का प्रवाह, रहने की जगह की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए अत्यंत आवश्यक है । खिड़कियों और दरवाजों को नियमित रूप से खोले रखने से ताज़ी हवा और सूर्य का प्रकाश घर के सभी कोनों और नुकों में सकारात्मक ऊर्जा का सञ्चालन करेंगे ताकि घर का वातावरण स्वच्छ और निर्मल रहे।

3. घर को संग्रहालय न बनाये

अव्यवस्था से घर में तनाव पैदा होता है, जो आपसी रिश्तो में नकारात्मक योगदान देती है। अनावश्यक वस्तुओं को निकालें और घर को एक हर साल एक नविन रूप देकर मेहमानो से वाहवाही लूटें।

4. शांति लिली लगाए

 Garden  by Appleyard London
Appleyard London

Summer Calla Lily Plant

Appleyard London

शांति लिली घर के भीतर लगाने के लिए सबसे उपयुक्त पौधा है । इससे अपनी घर की ऊर्जा और आभा दोनों पर सकारात्मक असर होता है।

5. नमक का जादू

 Household by Oggetto
Oggetto

Salt Keeper

Oggetto

नमक जब लोहा और पत्थर को भी गला सकता है तो आप सोच सकते है की बुरी ऊर्जा का क्या कर सकता है ? अपने घर के हर कमरे में नमक को कांच के छोटे मर्तबानो में डाल ऐसे जगह रखे जहाँ कोई उसे देख या छू न सके । इस प्रयोजन से घर में बाहर से आने वाले किसी भी नकारात्मक शक्ति या ऊर्जा को साफ रख सकते हैं ।

6. दर्पण की नियुक्ति सही जगह करे

दर्पण आकर्षक होने के साथ साथ रिक्त स्थान में ऊर्जा और घर के कथित कमरों में वृद्धि करते हैं। लेकिन दर्पण वांछनीय वस्तुओं से भी नकारात्मक पर प्रतिबिंबित कर सकते हैं इसीलिए उन्हें सीधे दरवाजे या अनाकर्षक फर्नीचर के आगे न रखे ।

7. उत्तर दिशा का महत्व


वास्तु शास्त्र में उत्तर को सकारात्मक दिशा मन जाता है और इस कोण पर फर्नीचर रखने से घर और शयनकक्ष में सकारात्मक माहौल पैदा होगा।

8. प्रवेश द्वार से शुरू करे

वास्तु के सिधान्तो का उपयोग अपने निवास के प्रवेश द्वार से शुरू करें क्योकि यही वह जगह है जहां ऊर्जा आती है । यदि द्वार संकीर्ण है तो इसे दर्पण से विस्तारित करने का प्रयास करें और सकारात्मक वातावरण को प्रोत्साहित करने के लिए फूल और पौधे से स्वागतमय मुख्य द्वार का सृजन करें।

9. सुखद सुगंधित धूप

दैनिक गतिविधियों जैसे घर की सफाई, खाना पकाना, कपडे और बर्तनो की धुलाई और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के उपयोग से घर में रासायनिक गंध और अदृश्य गैसे उत्पन्न होते हैं जिनका हानिकारक प्रभाव अंदर के वातावरण को दूषित करता है । इससे बचने के लिए सुगन्धित फूलों और वृक्षों को घर के अंदर लगाने के सात साथ  सुगंधित धूप या सुगन्धित तेलों से आपके घर को शुद्ध करें ।

10. अपने घर को साफ रखें

10. अपने घर को साफ रखें एक साफ घर तनाव मुक्त माहौल और वातावरण को बढ़ावा देगा इसीलिए साफ सफाई की व्यवस्था करके नकारात्मक ऊर्जा से निपटने के बारे में जाने और यह सुनिश्चित करें कि आप हमेशा रसायनों से मुक्त प्राकृतिक उत्पादों का उपयोग करें ।

अधिक वास्तु युक्तियाँ के बारे में और जानना चाहते हैं तो वास्तु शास्त्र के पालन में की जाने वाली गलतियों की जांच अवश्य करें ।

modern Houses by Casas inHAUS

Need help with your home project? We'll help you find the right professional

Request free consultation

Discover home inspiration!